mahendra singh

Hello world!!!! ...this is dr. Mahendra singh gurjar .....

Friends

Badrinath
Chetan
Jay saini
Aparna
Vishal kumawat
Dr.M.yamin
Rakesh K. Mandowara
bhanu Pratap Singh

Newsfeed

  • mahendra singh
    To make a great thing or change the world...u need to go through many war....it is not easy...it need patience...
  • mahendra singh
    Ham ek aise sansar main jee rae hai ....jaha chharo taraf tension hi tension hai...
  • mahendra singh
    😂😜😂😜😂😜😂
    एक डॉक्टर के पास एक बेहाल मरीज़ गया।
    .
    .
    मरीज़: डॉ. साहब पेट में बहुत दर्द हो रहा है।.
    .
    .
    .
    .
    डॉकटर समझ गए कि कब्ज़ है।

    .
    .
    फिर पूछा, "घर कितना दूर है तुम्हारा...??"
    .
    .
    मरीज़: 1 किलोमीटर।
    .
    .
    डॉक्टर ने केलकुलेटर पे कुछ हिसाब किया और फिर बोतल में से चार चम्मच दवाई निकाल कर एक कटोरी में डाली।
    .
    .
    डॉ: गाडी से आये हो या चल कर...??
    .
    .
    मरीज़: चल कर।
    .
    .
    डॉ: जाते वक्त भाग के जाना।
    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से बाहर निकाल ली।
    .
    .
    डॉ: घर कौन सी मंज़िल पे है...??
    .
    .
    मरीज़: तीसरी मंज़िल पे।
    .
    .
    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से और बाहर निकाल ली।
    .
    .
    डॉ: लिफ्ट है या सीढियाँ चढ़ के जाओगे...??
    .
    .
    मरीज़: सीढियां।
    .
    .
    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से और बाहर निकाल ली।
    .
    .
    डॉ: अब आखिरी सवाल का जवाब दो।
    घर के मुख्य दरवाजे से टॉयलेट कितना दूर है...??
    .
    .
    मरीज़: करीब 20 फुट।
    .
    .
    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से और बाहर निकाल ली।
    .
    .
    डॉ: अब मेरी फीस दे दो मुझे पहले...!!
    फिर ये दवाई पियो और फटाफट घर चले जाओ,
    कहीं रुकना नहीं और फिर मुझे फोन करना।
    .
    .
    मरीज़ ने वैसा ही किया।
    .
    .
    आधे घंटे बाद मरीज़ का फोन आया और एकदम ढीली आवाज में बोला,
    .
    .
    "डॉक्टर साहब, दवाई तो बहुत अच्छी थी आपकी
    पर आप अपना केलकुलेटर ठीक करवा लेना।
    .
    .
    .
    हम 10 फुट से हार गये।
    😆😆😆😆😆😆😆😆
    😂😜😂😜😂😜😂
    एक डॉक्टर के पास एक बेहाल मरीज़ गया।
    .
    .
    मरीज़: डॉ. साहब पेट में बहुत दर्द हो रहा है।.
    .
    .
    .
    .
    डॉकटर समझ गए कि कब्ज़ है।

    .
    .
    फिर पूछा, "घर कितना दूर है तुम्हारा...??"
    .
    .
    मरीज़: 1 क...See more
    May 12
    0 0
  • mahendra singh
    mahendra singh liked that Madge joined our site
    May 12
    0 1
    mahendra singh likes this
  • mahendra singh
    mahendra singh liked that Tushar Mahant joined our site
    May 12
    0 1
    mahendra singh likes this
  • mahendra singh
    mahendra singh commented on Dr.M.yamin's joining our site
    May 6
    1 1
    mahendra singh likes this
    mahendra singh
    May 6
    Welcome to fn yamin....
    You need to sign in to comment
  • Dr.M.yamin
    Dr.M.yamin and mahendra singh are now friends
    May 6
    0 0
  • mahendra singh
    Basically main fn ko startup ke liye hi delhna chhata hoon....fn satrtup ko help kare....fn is only for start up.....
    May 5
    0 0
  • mahendra singh
    अगले 1½ माह बच्चे विद्यालय के बंधन से मुक्त होकर घर पर समय बिताने वाले हैं, चलिए कुछ बातों को ध्यान में रखते हैं, जिनसे कि आने वाले 45 दिन बच्चों के लिए कुछ अलग प्रकार से व्यतीत हो :

    ▪बच्चों के साथ कम से कम एक वक्त का खाना जरुर खाएँ, उन्हें भोजन का मूल्य बताएँ और किसान की कड़ी मेहनत के बारे में बताएँ और उन्हें भोजन को व्यर्थ करने से रोकें।
    ▪उन्हें स्वयं से अपनी थाली धोने दें | इससे बच्चे मेहनत का सम्मान करना सीखेंगे |
    ▪उन्हें भोजन बनाने में आपकी सहायता करने दें | उन्हें सब्जी व सलाद बनाने दें।
    ▪अंग्रेजी के कम से कम 5-5 शब्द रोज याद करवाएँ एवं एक कॉपी में लिखवायें |
    ▪कम से कम 3 पड़ोसियों से मिलिये एवं उनसे अच्छी पहचान बनाइये |
    ▪दादा – दादी / नाना – नानी से मिलने जाइए और आपके बच्चों को उनसे खुलकर मिलने दीजिए, उनका प्यार और संवेदनात्मक सहारा आपके बच्चे के लिये अत्यंत महत्वपूर्ण है, उनकी फोटो खींचिये |
    ▪अपने कार्यस्थल पर बच्चों को ले जाइए और उसे समझने दीजिए कि आप अपने परिवार के लिए कितनी कड़ी मेहनत करते हैं|
    ▪त्यौहार मनाना और बाजार ले जाना बिलकुल न भूलें।
    ▪अपने बच्चो में सब्जियों का बगीचा लगाने की प्रेरणा डालें साथ ही पेड़ - पौधों की जानकारियाँ बच्चों के लिए अतिआवश्यक है|
    ▪आप अपने बचपन का एवं अपने परिवार का इतिहास अवश्य बताएँ |
    ▪बच्चों को बाहर मैदानी खेल खेलने की अनुमति दें | चोट खानें दें , धूल में रंगने दें | सब ठीक है | उन्हें गिरने दें, और चोट का अनुभव करने दें , नर्म–नर्म सोफे में आरामदायक जीवन जीने से बच्चे आलसी बनते हैं|
    ▪उनको भी जीव (पक्षी,मछली आदि ) पालने दीजिये |
    ▪उन्हें पारम्परिक गीत सुनाए/सिखाने का प्रयत्न करें।
    ▪अपने बच्चों को T.V., मोबाइल, कम्प्यूटर और अन्य उपकरणों से दूर रखिए , इन सबके लिए जीवन में बाद में भी समय है |
    ▪बच्चों के लिए कहानी की किताबें लायें जिसमें रंगबिरंगे चित्र हों |
    ▪ बच्चों को चाकलेट, चिप्स, बिस्किट्स, कोल्ड ड्रिंक्स एवं तले भोजन से बचाएँ |
    ▪अपने बच्चें की आँखों में देखकर ईश्वर का धन्यवाद करें इस प्यारे उपहार के लिये कुछ ही वर्षों में वे नयी ऊचाईयों को छूएँगे |
    ▪बच्चों के साथ प्राकृतिक स्थल, पर्यटन स्थल, धार्मिक स्थल या ऐतिहासिक स्थल पर भ्रमण पर अवश्य जाएँ | एक पालक होने के नाते अपने बच्चों के साथ समय बिताना आवश्यक है|
    ▪बच्चों को व्यायाम, मैदानी खेल,एवं रूचि के अनुसार कोई नई गतिविधि का जैसे तैराकी, सुलेख, संगीत आदि में सहभागिता कराएँ |
    ▪▪▪▪©▪▪▪▪
    अगले 1½ माह बच्चे विद्यालय के बंधन से मुक्त होकर घर पर समय बिताने वाले हैं, चलिए कुछ बातों को ध्यान में रखते हैं, जिनसे कि आने वाले 45 दिन बच्चों के लिए कुछ अलग प्रकार से व्यतीत हो :

    ▪बच्चों के साथ कम से कम एक वक्त का खाना जरुर खाएँ, उन्हें भोजन का मूल्य बताएँ और किसान की कड़ी मेहनत के...See more
    May 4
    0 0
  • mahendra singh
    Hamari life main carrer wo chhhez hai jiske saath aapko puri life bitnai hai...ye kuch kixh shhadi jaisa hi hai...isiye carrer wo chune jiske saath aap khushi khushi apna pura jeevan beta sake....apna pura jeevan wokaam kar sake....jo aapne chuna hai
    May 3
    0 0